Shahrukh Khan Biography in Hindi | शाहरुख खान जीवन परिचय

Shahrukh Khan Biography in Hindi

Posted  1,308 Views updated 10 months ago

जीवन परिचय

वास्तविक नामशाहरुख खान

उपनामएसआरके, किंग खान, किंग ऑफ़ रोमांस, बादाशाह

व्यवसायअभिनेता, निर्माता, उद्यमी

शारीरिक संरचना

लम्बाईसे० मी०- 173
मी०- 1.73
फीट इन्च- 5’ 8”

वजन/भार (लगभग)75 कि० ग्रा०

शारीरिक संरचना (लगभग)-छाती: 42 इंच
-कमर: 34 इंच
-Biceps: 13 इंच

आँखों का रंगगहरा भूरा

बालों का रंगकाला

व्यक्तिगत जीवन

जन्मतिथि2 नवंबर 1965

आयु (2017 के अनुसार)52 वर्ष

जन्मस्थाननई दिल्ली, भारत

राशिवृश्चिक

राष्ट्रीयताभारतीय

हस्ताक्षर

गृहनगरनई दिल्ली, भारत

स्कूल/विद्यालयसेंट कोल्बा स्कूल, दिल्ली

महाविद्यालय/विश्वविद्यालयहंसराज कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली
जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय, नई दिल्ली

शैक्षिक योग्यताअर्थशास्त्र में स्नातक
मास कम्युनिकेशंस में परास्नातक

डेब्यूफिल्म (अभिनेता) : दीवाना (1992)

टीवी (कलाकार) : फ़ौजी (1989)

धर्मइस्लाम

खाद्य आदतमासांहारी

पतामन्नत, बैंडस्टैंड, बांद्रा (पश्चिम), मुंबई, महाराष्ट्र - 400050, भारत

शौक/अभिरुचिवीडियो गेम खेलना, गैज़ेट एकत्रित करना और क्रिकेट खेलना

पुरस्कार/सम्मानफिल्मफेयर पुरस्कार
• वर्ष 1993 में, उन्हें फिल्म दीवाना के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनय पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 1994 में, उन्हें फिल्म बाजीगर के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 1995 में, उन्हें फिल्म आलोचकों द्वारा फिल्म कभी हाँ कभी ना के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार और फिल्म अंजाम के लिए सर्वश्रेष्ठ खलनायक पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 1996 में, उन्हें फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 1998 में, उन्हें फिल्म दिल तो पागल है के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 1999 में, उन्हें फिल्म कुछ कुछ होता है के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 2002 में, उन्हें विशेष पुरस्कार स्विस दूतावास ट्रॉफी से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 2003 में, उन्हें फिल्म देवदास के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 2005 में, उन्हें फिल्म स्वदेश के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 2008 में, उन्हें फिल्म चक दे इंडिया के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 2011 में, उन्हें फिल्म My Name Is Khan के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

राजकीय पुरस्कार
• वर्ष 2005 में, उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

• वर्ष 2013 में, उन्हें दक्षिण कोरिया सरकार द्वारा सद्भावना राजदूत सम्मान से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 2014 में, उन्हें फ्रांसीसी सरकार द्वारा Légion d'honneur सम्मान से सम्मानित किया गया।

अन्य पुरस्कार
• वर्ष 2007 में, उन्हें NDTV Indian पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
• वर्ष 2011 में, उन्हें युनेस्को (UNESCO) द्वारा Pyramide con Marni पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

नोट: इसके अलावा उनके पास कई पुरस्कार, सम्मान और उपलब्धियां हैं।

विवाद• वर्ष 2008 में, शाहरुख़ कैटरीना कैफ के जन्मदिन समारोह के दौरान सलमान खान से भिड़ने पर विवादों में रहे।
• वर्ष 2012 में, उन्होंने एक पार्टी में शिरीष कुंदर (फराह खान के पति) को थप्पड़ मारा जिसके कारण वह विवादों में रहे।
• वर्ष 2012 में आईपीएल मैच के दौरान वानखेड़े स्टेडियम में मैदान पर जाने को लेकर शाहरुख खान की सुरक्षाकर्मियों के साथ बहस हो गई थी। जिसके चलते एक स्थानीय कार्यकर्ता ने अदालत में शिकायत दर्ज़ करवाई कि शाहरुख ने आईपीएल मैच के दौरान सुरक्षाकर्मियों के साथ शराब पी कर गाली-गलौज की। जिसके बाद मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने शाहरुख खान पर पांच साल का प्रतिबंध लगा दिया था।

• वर्ष 2013 में, शाहरुख़ तब विवादों में आए जब महाराष्ट्र के रेडियोलॉजिस्ट एसोसिएशन ने उन पर तीसरे बेटे अब्राम के जन्म के दौरान लिंग जाँच परीक्षण करवाने का आरोप लगाया, जिसे भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित किया गया है। हालांकि, बीएमसी द्वारा उन्हें क्लीन चिट दे दी गई।
• वर्ष 2012 में, आईपीएल मैच के दौरान राजस्थान में सार्वजनिक रूप से धूम्रपान करने के लिए शाहरुख़ विवादों में रहे।

प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां

वैवाहिक स्थितिविवाहित

गर्लफ्रेंड व अन्य मामलेगौरी छिब्बर

विवाह तिथि25 अक्टूबर 1991

परिवार

पत्नीगौरी खान (भारतीय फिल्म निर्माता और इंटीरियर डिजाइनर)

बच्चेबेटा - आर्यन खान और अबराम खान
बेटी - सुहाना खान

माता-पितापिता - ताज मोहम्मद खान (व्यवसायी)
माता - लतीफ़ फ़ातिमा (मजिस्ट्रेट, सामाजिक कार्यकर्ता)

भाई-बहनभाई- कोई नहीं
बहन - शहनाज लाला रुख खान (बड़ी)

पसंदीदा चीजें

पसंदीदा भोजनतंदूरी चिकन, चाईनीज व्यंजन

पसंदीदा पेय पदार्थपेप्सी और कॉफी

पसंदीदा अभिनेतादिलीप कुमार, अमिताभ बच्चन

पसंदीदा अभिनेत्रियांमुमताज, सायरा बानो

पसंदीदा टीवी शोNarcos

पसंदीदा रंगनीला, काला और श्वेत

पसंदीदा वाक्यांश'Let's do it'

पसंदीदा स्थानलंदन और दुबई

पसंदीदा इत्रDiptyque, Armani, Tuscany and Azzaro

पसंदीदा किताबThe Hitch-Hiker's Guid to The Galaxy (Author Douglas)

पसंदीदा कारबीएमडब्ल्यू

पसंदीदा पहनावाजींस, टी-शर्ट और जैकेट

पसंदीदा पुरुष सह-अभिनेतासंजय दत्त, अनिल कपूर, जैकी श्रॉफ

पसंदीदा महिला सह-अभिनेत्रियांजूही चावला, काजोल, माधुरी दीक्षित

पसंदीदा फिल्म निर्देशकमनमोहन देसाई

पसंदीदा संगीत निर्देशकए. आर. रहमान

पसंदीदा खेलहॉकी, फुटबॉल और क्रिकेट

पसंदीदा फुटबॉल खिलाड़ीSocrates, Pele, Maradona and Mattheus

पसंदीदा फैशन डिजाइनरDolce & Gabbana

पसंदीदा ऐतिहासिक व्यक्तिचंगेज खान, हिटलर, नेपोलियन

पसंदीदा विषयअंग्रेजी (विशेष रूप से शेक्सपियर)

पसंदीदा चाट मसालालाल मिर्च

धन/संपत्ति संबंधित विवरण

कार संग्रहऑडी ए 6 लक्जरी सैलून, बेंटले कॉन्टिनेंटल जीटी, बीएमडब्ल्यू 6 सीरीज़

बीएमडब्लू 7 सीरीज, बीएमडब्लू i8

बुगाटी वेरॉन, मित्सुबिशी पजेरो एसएफ़एक्स, रोल्स रॉयस फैंटम ड्रॉपहेड कूप, टोयोटा लैंड क्रूजर प्राडो

वेतन (लगभग)₹45 करोड़ / फ़िल्म

संपत्ति (लगभग)₹3780 करोड़
$600 मिलियन (लगभग)

शाहरुख खान से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

क्या शाहरुख खान धूम्रपान करते हैं ?: हाँ   

क्या शाहरुख खान शराब पीते हैं ?: हाँ 

शाहरुख खान का जन्म एक साधारण परिवार में हुआ था। जहां उनके पिता एक परिवहन कंपनी के मालिक थे वहीं उनकी मां एक मजिस्ट्रेट अधिकारी थीं और वे किराये के अपार्टमेंट में रहते थे।

एक साक्षात्कार के दौरान, उन्होंने बताया कि उनकी मां एक दक्षिण भारतीय थीं, जो कि आंध्र प्रदेश से थीं और बाद में कर्नाटक में स्थापित हो गई थीं।

शाहरुख खान के पिता स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चंद्र बोस के दूर के रिश्तेदार थे, क्योंकि उनके पिता जनरल शाह नवाज के चचेरे भाई थे, जो सुभाष चंद्र बोस के दूसरे कमांडर थे।

उनके माता-पिता ने प्रेम विवाह किया था, जिसके चलते उनकी पहली मुलाकात अस्पताल में हुई, उस समय उनकी मां घायल अवस्था में थीं और उन्हें रक्त की आवश्यकता थी, तब उनके पिता ने रक्त दान किया। तब से वह दोनों एक दूसरे के प्यार में पड़ गए।

उनका नाम शाहरुख है, जिसका अर्थ “राजा का चेहरा” है।

शाहरुख ने अपने जीवन के पहले पांच साल मैंगलोर में बिताए थे, जहां उनके नाना इफ्तियार अहमद एक इंजीनियर थे।

वर्ष 1981 में, जब वह 15 वर्ष के थे तब उनके पिता का कैंसर की बीमारी से निधन हो गया था।

उन्हें सेंट कोलंबा स्कूल, नई दिल्ली के द्वारा ‘Sword of Honor’ ख़िताब से सम्मानित किया गया था, जिसे स्कूल के सर्वश्रेष्ठ छात्र के रूप में दिया जाता है। 

शिक्षा के अलावा वह खेल-कूद में भी काफी सक्रिय थे, जिसके चलते वह अपने स्कूल में हॉकी और फुटबॉल टीम के कप्तान थे।

शाहरुख़ किसी भी व्यक्ति को “यार” कहकर पुकारते हैं।

किशोरावस्था के दौरान वह दिलीप कुमार, अमिताभ बच्चन, मुमताज, इत्यादि जैसे बॉलीवुड अभिनेताओं व अभिनेत्रियों की नकल (मिमिक्री) करते थे।

शाहरुख़ का पहला वेतन ₹ 50 था, जिसे उन्होंने दिल्ली में पंकज उधास के एक संगीत कार्यक्रम में अनुरक्षण के रूप में कार्य करते हुए प्राप्त किया था। उन्होंने एक बार दरिया गंज में एक छोटे से रेस्तरां कारोबार का विस्तार करने की कोशिश की, लेकिन किसी कारणवश वह चल नहीं पाया।

अपना पहला वेतन प्राप्त करने के बाद शाहरुख़ आगरा की ट्रेन पकड़ कर ताजमहल देखने गए।

शाहरुख़ के दोस्त विवेक वासवानी ने उनके संघर्ष के दिनों में बहुत मदद की और जिसके चलते बाद में राजू बन गया जेंटलमैन और जोश जैसी फिल्मों में सह-अभिनेता के रूप में कार्य किया।

वर्ष 1988 में, उन्हें पहली बार लेख टंडन के टेलीविजन शो- दिल दारिया में एक भूमिका की पेशकश की गई थी, लेकिन शो के प्रसारण में लगातार देरी होने के कारण उन्होंने फौजी टेलीविज़न शो से अपने टीवी अभिनय करियर की शुरुआत की।

वह तंदूरी चिकन के बहुत शौकीन हैं और एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा था कि वह वर्ष के 365 दिन तंदूरी चिकन को खा सकते हैं।

उन्होंने उम्मीद, वाघले की दुनिया, महान क़र्ज़ नामक टीवी धारावाहिकों में छोटी भूमिकाएं की हैं। यही नहीं उन्होंने अंग्रेजी भाषा में टीवी फिल्म “In Which Annie Gives It Those Ones” में भी कार्य किया है।

वर्ष 1991 में अपनी मां के निधन के बाद वह अपनी बहन के साथ मुंबई चले आए।

शाहरुख को पहली बार हेमा मालिनी द्वारा निर्देशित फिल्म ‘दिल आशना है’ की पेशकश की गई थी, लेकिन उनकी पहली फिल्म दीवाना थी जो जून 1992 में रिलीज़ हुई थी। 

इसके बाद शाहरुख ने एक के बाद एक हिट फ़िल्में की जैसे कि चमत्कार, राजू बन गया जेंटलमैन, माया मेमसाहब, किंग अंकल, बाजीगर, डर और पहला नशा में कैमियो की भूमिका निभाई।

शाहरुख़ अपने वास्तविक जीवन में कभी हकलाते हुए नहीं बोलते हैं लेकिन उनका फिल्म डर में हकलाते हुए एक संवाद “आई लव यू कक्क किरण” को कहा जिसे वर्तमान में कई कार्यक्रमों में इस्तेमाल किया जाता है।

वर्ष 1994 में, उन्हें फिल्म- “कभी हाँ कभी ना” के लिए केवल ₹25,000 की पेशकश की गई थी। उन्होंने फिल्म के शुरुआती दिनों में मुंबई के सिनेमाघरों की बुकिंग खिड़की पर फिल्म की टिकट को भी बेचा था। 

ब्लॉकबस्टर फिल्म “दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे” करने के बाद उनका नाम घर-घर में लोकप्रिय हो गया।

उन्होंने कॉलेज की प्रेमिका गौरी खान से विवाह किया और जिसके चलते उनके दो बेटे और एक बेटी हैं। 

फिल्म “दिल से” के एक गीत “चल छैंया छैंया” को चलती ट्रेन में फिल्माया गया था जिसमें शाहरुख़ ने अन्य नर्तकों के भांति सुरक्षा नहीं ली हुई थी। 

उन्हें फिल्म कुछ कुछ होता है में अभिनय के साथ-साथ फिल्म के एक्शन निर्देशन के लिए भी ख्याति प्राप्त हुई। यही नहीं उन्होंने फिल्म में रानी मुखर्जी को शामिल करने के लिए करण जौहर से सिफारिश भी की।

90 के दशक के अंत तक पहुंचते पहुंचते वह एक स्थापित कलाकार बन गए थे, खासकर युवाओं के बीच और यही नहीं पर्दे पर बिना किसी सह-कलाकार को चुंबन का दृश्य किए बिना भी उन्हें बॉलीवुड में “किंग ऑफ़ रोमांस” का ख़िताब भी मिला। 

अभिनय की दुनिया पर शासन करने के अलावा वह अपने मेज़बानी कौशल के लिए भी काफी प्रसिद्ध हैं, जिसकी शुरुआत उन्होंने प्लेथोरा में आयोजित 48 वें फिल्मफेयर पुरस्कार समारोह की। इसके बाद उन्होंने एक के बाद एक समारोह से कि 49 वें, 52 वें, 53 वें, 55 वें, 57 वें, 58 वें, 61 वां , 62 वें और 63 वें फिल्मफेयर पुरस्कार, 20 वीं, 21 वीं लाइफ ओके स्क्रीन अवार्ड्स, 6 वें, 14 वें अंतरराष्ट्रीय भारतीय फिल्म अकादमी पुरस्कार, इत्यादि इस सूची में शामिल हैं।

उदार स्वभाव होने के कारण शाहरुख़ विभिन्न परोपकारी कार्य करते रहते हैं। इसके अलावा वह कई धर्मार्थ संगठनों से जुड़े हुए हैं उनमें से “मेक ए विश फाउंडेशन” एक है।

शाहरुख ने सोनी एंटरटेनमेंट पर प्रसारित कार्यक्रम कौन बनेगा करोड़पति के सीजन 3 की मेजबानी भी की है। 

उन्हें घुड़सवारी करते हुए डर लगता है और उन्हें आइसक्रीम खाना भी पसंद नहीं है।

जूही चावला और उनके पति जे मेहता के साथ शाहरुख ने ट्वेंटी -20 क्रिकेट टूर्नामेंट आईपीएल में 75.09 मिलियन अमेरिकी डॉलर से कोलकाता का प्रतिनिधित्व करने वाली फ्रेंचाइज़ी के स्वामित्व अधिकारों को खरीदा है और इसके बाद टीम का नाम कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) में बदल दिया। 

उन्हें पल्स पोलियो और राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन जैसे विभिन्न सरकारी अभियानों के ब्रांड एंबेसडर के रूप में चुना गया और यहीं नहीं उन्होंने UNOPS (यूएनओपीएस) द्वारा जल आपूर्ति और स्वच्छता सहयोगी परिषद के पहले वैश्विक राजदूत के रूप में प्रतिनिधित्व भी किया है।

शाहरुख़ ने वर्ष 2012 में आई अपनी फिल्म “जब तक है जान” में पहली बार पर्दे पर चुंबन किया।

शाहरुख़ खान पहले ऐसे भारतीय अभिनेता हैं और सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे भारतीय नागरिक हैं जिनकी आत्मकथा “King Khan: The Official Opus of Shah Rukh Khan” को Kraken Opus द्वारा प्रकाशित किया गया। 

शाहरुख़ की दोहरी भूमिका वाली फिल्म फैन को दर्शकों का बहुत प्यार मिला। इस फिल्म के लिए उन्होंने स्वयं को 25 वर्षीय व्यक्ति के रूप में परिवर्तित किया। जिसमें अंतरराष्ट्रीय मेकअप कलाकार ग्रेग कैनॉम ने उनकी सहायता की, जिन्हें तीन अकादमी पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। 

वर्ष 2017 में, उन्हें टेड सम्मेलनों द्वारा निर्मित एक भारतीय व्याख्यान शो “टेड टॉक्स इंडिया नई सोच” में देखा गया।

शाहरुख को महिला सशक्तिकरण, तेजाबी हमले से शिकार और बच्चों के अधिकारों के प्रति कार्य करने के लिए विश्व आर्थिक मंच द्वारा 24 वें वार्षिक क्रिस्टल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 

शाहरुख़ खान का इंग्लैंड में लंदन के मैडम तुसाद संग्रहालय में मोम का पुतला स्थापित है। 

शाहरुख ने अपने सिग्नेचर स्टाइल से दुनिया भर के लोगों को अपनी ओर आकर्षित किया है, जिसमें वह अपने दोनों हाथों को हवा में लहराते हैं। 

वर्ष 2018 में, आनन्द एल. राय की फिल्म “ज़ीरो” में शाहरुख़ खान प्रमुख भूमिका निभाई हैं, जो श्रीदेवी की आखिरी फिल्म थी।

शाहरुख़ का अंकशास्त्र के प्रति काफी लगाव है, जिसके चलते वह 555 अंक के प्रति बहुत अंधविश्वासी हैं। उनका मानना है कि यह अंक उनके लिए बहुत शुभ है। जिसके कारण उन्होंने अपनी सभी कारों को 555 अंक से पंजीकृत किया और यही नहीं वह अपनी ई-मेल आईडी में भी इन अंकों का प्रयोग करते हैं।

इस्लाम में विश्वास रखते हुए शाहरुख़ ने अपनी पत्नी के धर्म को भी उतना ही महत्व दिया है जितना वह इस्लाम को देते हैं। उन्होंने एक साक्षात्कार के दौरान कहा था कि मेरे घर में हिन्दू देवी देवताओं के साथ कुरान शरीफ रखी हुई है।


Your reaction?

0
LOL
0
LOVED
0
PURE
0
AW
0
FUNNY
0
BAD!
0
EEW
0
OMG!
0
ANGRY
0 Comments

  • Shahrukh Khan Biography in Hindi | शाहरुख खान जीवन परिचय
  • vihanapp@gmail.com